पति की हत्या से पूरा होता महिला सशक्तिरकण

Nav Bharat Times 08.10.2014

Nav Bharat Times 08.10.2014

इस हत्याकांड में भी पुलिस ने पत्नी को ही दोषी पाया । जब पुरुष की जान गयी तो कोईं न्याय की मांग क्यों नहीं कर रहा है ? क्या पुरुष की मौत रोने भर को भी नहीं है ? करोड़पति से लेकर मजदूर और राज मिस्त्री तक, सभी वर्गों की महिलाओं का सशकितकरण पति को मारकर ही पूरा होता है । सबसे गौर तलब बात यह है कि बहुधा ऐसे मामलों में अपराधी महिला को सजा नहीं होती या बहुत कम सजा से काम चलाया जाता है ।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s