Images

महिला दिवस पर विशेष ! साधुवाद दीपिका.

wp-1457548440664.jpg

पुरुष अधिकारों के लिये आवाज उठाने वाली देश की कुछ चुनिन्दा महिलाओं में दीपिका का नाम शुमार है । आपके कामों को व्यापक स्तर पर पहचान और सरहाना मिली है । साधुवाद दीपिका ! पुरुषों के हक में आवाज उठाने के इनके अनूठे कार्य को राजस्थान पत्रिका ने खास महिला दिवस पर प्रोत्साहन दिया ।

Advertisements

माताएं एवं बहिने महिला नहीं

image

‘दामन’ संस्था ने ‘वैवाहिक बलात्कार’ का किया विरोध

image

तस्वीरें गवाह हैं की जब 20 फरवरी 2016 को कानपुर के बड़े चौराहे पर ‘दामन’ संस्था ने प्रस्तावित ‘वैवाहिक बलात्कार’ कानून का विरोध किया तो उन्हें अभूतपूर्व जन समर्थन मिला । जन-जागरण के लिए आयोजित इस कार्यक्रम के मर्म को न सिर्फ लोगों ने सराहा बल्कि ज्ञापन पर अपने हस्ताक्षर बना कर दामन की इस मुहीम से जुड़े । बड़ी संख्या में महिलाओं से इस हस्ताक्षर अभियान में सहभागिता की । क्या खुद को देश का रहनुमा कहने वाले सुन और देख रहें हैं ?

क्या इस ’अबला नारी’ पर कोई कानून वाला कार्यवाही करने की हिम्मत करेगा ?

मोहतरमा पहले से ही शादी-शुदा थी और फिर भी एक ’नया बकरा’ हलाल करने निकल पड़ी । आज यह बहुत ही आम बात है, जिसमें महिलाएं एक से अधिक शादियां कर रही हैं । वो भी बिना पूर्व तलाक लिये हुये । सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि भारत के कानून (आई.पी.सी.) में ऐसी महिला अपराधियों को सजा देने का कोई प्राविधान नहीं है । अलबत्ता, इस महिला अपराधी के ’नये पति’ को सजा का प्राविधान जरूर है । अब कपट करे ’अबला महिला’ और सजा पाये बेचारा ’निर्दोष पुरुष’ । न पुलिस, न अदालते और न समाज – ऐसी महिला अपराधियों को कोई सजा दिलवाने के लिये पहल नहीं करता ।

image